केंद्रीय विद्यालय संगठन(मुख्यालय) नई दिल्ली द्वारा प्रकाशित वार्षिक पत्रिका *”काव्य मंजरी”* के वर्ष २०१७ के अंक में मेरी कविता भी प्रकाशित हुई है।
 कविता देशभक्ति पूर्ण है,जो हमारे जाबांज सिपाही की वीरता और वतन के लिए मर मिटने के जज़्बे को दर्शाती है। 

 

Advertisements